मंगळवार, १७ जुलै, २०१२

हिरवळीच्या खतासाठी कोणती पिके निवडावीत?

- जालिंदर खेमाडे, बीड सेंद्रिय खतात, शेणखत, कंपोस्ट, खाद्य अखाद्य पेंडी, गांडूळ खत इत्यादीचा समावेश होतो. मात्र सेंद्रिय खते पिकांना जास्त प्रमाणात लागतात. परंतु आपण त्याचप्रमाणात देऊ शकत नाही. अशा परिस्थितीत जमिनीचा पोत, कस, सुपीकता टिकविण्यासाठी हिरवळीच्या खतांचा वापर करणे काळाची गरज आहे. जमिनीमध्ये वनस्पतीची हिरवी पाने किंवा जमिनीमध्ये हिरवी पिके वाढवून पीक फुलोऱ्यात असताना त्याच जमिनीमध्ये नांगरणीच्यावेळी गाडतात. हिरवळीच्या खताचे प्रकार - जागच्याजागी वाढविलेले हिरवळीचे खत - हिरवळीच्या खतासाठी ताग, धैंचा, मूग, गवार, चवळी, ज्वारी, मका, सूर्यफूल, बरसीम या पिकांची निवड केली जाते. ही पिके मुख्य पीक किंवा आंतरपीक म्हणून लावतात. पीक फुलावर येण्याअगोदर जमिनीमध्ये गाडतात. हिरवळीच्या खतासाठी द्विदल पिकाची निवड करावी, कारण त्याच्या मुळांवर गाठी असतात. या गाठीतील जिवाणू हवेतील नत्र स्थिर करून ठेवतात. ही पिके कमी पाण्यावर येणारी असावीत, त्याची मुळे खोल जाणारी असावीत. हिरवळीच्या पिकापासून जास्तीत जास्त हिरवी पाने मिळावीत, पिकांचे अवशेष जमिनीमध्ये लवकरात लवकर कुजणारे असावेत. त्यामुळे जमिनीमध्ये सेंद्रिय पदार्थाचे प्रमाण वाढते. ताग - तागाचे बियाणे हेक्‍टरी 50 ते 60 किलो लागते. हे शेतात पावसाळ्याच्या अगोदर पेरावे. साधारणपणे 40 ते 50 दिवसांत (पीक फुलोऱ्यात अगोदर) 100 ते 120 सें.मी. पिकाची वाढ झाल्यावर जमिनीत गाडतात. त्यामुळे जमिनीत हेक्‍टरी 70 ते 80 किलो नत्र वाढते. या खताचा भात पिकासाठी वापर केल्यास उत्पादनात 60 ते 80 टक्के वाढ होते. धैंचा - हे एक हिरवळीचे उत्तम पीक आहे. हे पीक क्षारपड जमिनीमध्ये आणि भात पिकांमध्ये घेता येते. त्यामध्ये नत्राचे प्रमाण 0.42 टक्के आहे. हे पीक जमिनीत गाडल्यानंतर पिकास हेक्‍टरी 60 ते 70 किलो नत्र मिळतो. त्यासाठी साधारण 20 ते 40 किलो बियाणे प्रति हेक्‍टरी पेरून पिकाची वाढ तीन चे चार फूट उंची झाल्यावर 40 ते 50 दिवसांत जमिनीमध्ये गाडतात. धैंचाचे हिरवळीचे खत वापरल्यामुळे भात उत्पादनात 20 टन वाढ दिसून आलेली आहे. हिरव्या कोवळ्या पानांचे खत - ग्लिरिसिडीया, शेवरी, करंज, जंगली धैंचा, सुबाभूळ इत्यादी झुडपे आणि झाडांचा समावेश असून या झुडपाचा आणि झाडांची हिरवी पाने, फांद्या (कुजण्यासाठी योग्य असणारी) जमिनीत पसरून नांगरणीच्या वेळी गाडतात. ही झाडे आणि झुडपे शेताच्या बांधावर आणि पडीक जमिनीत लावून हिरवळीच्या खतासाठी वापर करावा. हिरवळीच्या खतांमुळे होणारे फायदे -जमिनीच्या सेंद्रिय पदार्थांचे प्रमाण वाढते. त्यामुळे प्रामुख्याने जमिनीच्या भौतिक, रासायनिक, जैविक गुणधर्मात बदल होतो. सेंद्रिय पदार्थ वाढल्यामुळे जमिनीमध्ये सूक्ष्म जीवजंतूंची वाढ होते. जमिनीची जडणघडण योग्य होऊन जमिनीची जलधारणाशक्ती वाढते जमिनीची धूप कमी होते. -रासायनिक गुणधर्मामध्ये जमिनीची पोत सुधारून स्फुरद, पालाश, कॅल्शिअम, मॅंगेनीज, लोह इत्यादी अन्नद्रव्यांची उपलब्धता वाढते. -द्विदल हिरवळीचे पीक घेतल्याने जमिनीमध्ये नत्राचे प्रमाण वाढते. हा नत्र पुढील पिकास उपलब्ध होतो. -हिरवळीची पिके ही अन्नद्रव्ये जमिनीच्या खालच्या थरातून घेतात आणि गाडल्यानंतर त्यातील अन्नद्रव्ये पिकास उपलब्ध होतात. -द्विदल पिके मातीचे कण घट्ट धरून ही पिके शेतात उभी असताना जोराचा पाऊस आला तर मातीची कमी प्रमाणात धूप होते. मात्र तृणवर्गीय पिकातून पावसाच्या पाण्याबरोबर माती वाहून जाते. : श्री. कांबळे, 8275376948 कृषी संशोधन केंद्र, कसबे डिग्रज, जिल्हा सांगली

२ टिप्पण्या:

  1. पूर्ण रूप से प्राकृतिक चिकित्सा
    स्विट्ज़रलैंड के प्राकृतिक जंगलो में २०० साल पुराने एप्पल के पेड़ है जिसके एप्पल काटने बावजूद भी काले नही पड़ते और 3 1/2 महीनो तक फ्रेश रहते है इसका कारण जानने के लिए शोध किया गया स्विट्ज़रलैंड की Mibelle Biochemistry Lab में. शोध में पाया गया की इस Malus Domestica Apple में वही Embryonic stem cells है जो गर्भ में पल रहे बच्चे की नाड़ में होता है , जो माता से गर्भ में बच्चे से जुड़ा होता है. नाड़ में वो Embryonic stem cells होते है जिससे गर्भ में पूर्ण बच्चे का विकास और उसके अवयवो का निर्माण होता है .आज भारत में रिलायंस नवजात बच्चो की stem cells की नाड़ जन्म के बाद सुरक्षित रखने का काम कर रही है.ताकि उस बच्चे को बड़े होने पर यदि कोई बीमारी होती है तो उस बच्चे की नाड़ जो सुरक्षित रखी गयी है उसमे से Embryonic stem cells निकालकर उसके शरीर में डाल सके क्योकि Embryonic stem cells में इतनी ताकत होती है की उससे उसी व्यक्ति के पूर्ण अवयव या कह सकते है की उसीका पूर्ण शरीर बनाया जा सकता है. आप समज सकते है की बच्चे की नाड़ सुरक्षित रखने का काम रिलायंस कितनी सफलता पूर्वक कर रही है. क्योकि stem cells सुरक्षित preserve करने का खर्च काफी ज्यादा है और इस काम की ब्रांड अम्बेसडर ऐश्वर्या राय बच्चन है उन्होंने अपनी बच्ची आराध्या बच्चन की नाड़ Embryonic stem cells सुरक्षित करके रखी है. हर व्यक्ति की नाड़ सिर्फ उसी के लिए उपयोग में लायी जा सकती है क्योकि सभी का DNA अलग अलग है
    अब जिनके पास अपनी नाड़ अम्ब्रियनिक स्टेमसेल्स सुरक्षित करके रखी हुई नहीं है उनके लिए क्या?
    इसीलिए Embryonic stem cells का रिसर्च किया गया जो सभी मानव जाती को बिमारिओ से मुक्त कर सके और नतीजा निकला स्विट्ज़रलैंड के Malus Domestica Apple में. इसके स्टेमसेल्स Embryonic stem cells है और इसके पेड़ में खुद को ठीक HEAL करने की अद्भुत क्षमता है. Mibelle Biochemistry Lab को इसमें सफलता मिली और नयी डबल स्टेमसेल्स थेरेपी सामने आई जिससे खराब हो चुके सेल्स का, अवयवो का पुनः निर्माण होता है. यह आज तक की सबसे बड़ी खो Malus Domestica Apple से Embryonic stem cells निकालकर साथ में Solar Vitis Grape stem cells, Acai berry और Blue berry मिलायी गयी जो Nutrition का नैसर्गिक भण्डार है. इसे मिलाने की वजह यह है की नए सेल की निर्मिति और पोषण के लिए भरपूर Nutrition की आवश्यकता होती है और शोध में यह पाया गया की , Acai berry के निरंतर सेवन से , AMAZON के आदिवासी १२५ से १५० साल तक जीते है . इसी कारण इसका सीधा फायदा आपको आपकी जीवन आयु बढ़ाने में होगा. जो की साइंटिफिक तथ्य है.

    Double Stemcell 134 से भी ज्यादा बीमारियो पर पूर्ण रूप से कारगर है उन में से कुछ मुख्य बीमारियो से काफी अधिक संख्या में मानव जाती पीड़ित है
    Double Stemcell द्वारा आपको पूर्ण रूप से इन बीमारियो से निदान मिलेगा. शोध से पता चला है की Double Stemcell का सेवन करने से मनुष्य के शरीर के 80% stem cells और Regenerate होते है. ( वो भी सिर्फ 0.01 डबल स्टेमसेल्स के सेवन से )
    डबल स्टेमसेल्स शरीर को Vitality , u के cells को सुरक्षा , बाहरी वातावरण और Activate तनाव से बचाव और बढाती उम्र के प्रभाव से बचाता है और स्किन को Younger बनाता है .
    यह Anti-aging और पूर्ण रूप से सारे cells का regeneration करता है.
    आपके अवयवो के बेकार हो गए सेल्स का पुनः निर्माण करता है. जिससे आपके अवयव पूर्णरूप से ठीक होकर ठीक से काम करने लगते है और बिमारी का नामोनिशान मिट जाता है.
    Brain problems, Cancer, Diabetes जैसी अन्य सभी गंभीर बीमारियो से मुक्ति पाने के लिए Double Stemcell पूर्ण रूप से कारगर है. आप खुद ही इसके सेवन से 72 घंटो में बदलाव महसूस करेंगे. Diabetes से सड़ चुके घाव के कारण पैर काटने पड सकते थे पर Double Stemcell के सेवन से 48 घंटो में घाव भरने की प्रक्रिया शुरू हो गयी और रुग्ण पैर कटवाने से बच गया तथा Diabetes के कई रोगियों को इन्सुलिन लेने की आवश्यकता ख़त्म हो गयी. जिन्हे Heart disease है उनके Heart मजबूत होकर फिर अच्छी तरह कार्य करने लगे और वे सभी रुग्ण ऑपरेशन से बच गए. अभी वे Double Stemcell के साथ अपना स्वस्थ जीवन व्यतीत कर रहे है.
    अब आपको ही सोचना है की हमेशा महँगी गोलिया और महँगी फीस देकर बिमारी के साथ आपको जीना है या फिर Double Stemcell के साथ रोगमुक्त होकर आपको स्वस्थ जीवन जीना है.
    निःसंकोच होकर हमें निचे दिए हुवे नम्बरो पर अपना नाम और पता SMS करे. call & SMS : +919011990055

    प्रत्युत्तर द्याहटवा
  2. पूर्ण रूप से प्राकृतिक चिकित्सा
    स्विट्ज़रलैंड के प्राकृतिक जंगलो में २०० साल पुराने एप्पल के पेड़ है जिसके एप्पल काटने बावजूद भी काले नही पड़ते और 3 1/2 महीनो तक फ्रेश रहते है इसका कारण जानने के लिए शोध किया गया स्विट्ज़रलैंड की Mibelle Biochemistry Lab में. शोध में पाया गया की इस Malus Domestica Apple में वही Embryonic stem cells है जो गर्भ में पल रहे बच्चे की नाड़ में होता है , जो माता से गर्भ में बच्चे से जुड़ा होता है. नाड़ में वो Embryonic stem cells होते है जिससे गर्भ में पूर्ण बच्चे का विकास और उसके अवयवो का निर्माण होता है .आज भारत में रिलायंस नवजात बच्चो की stem cells की नाड़ जन्म के बाद सुरक्षित रखने का काम कर रही है.ताकि उस बच्चे को बड़े होने पर यदि कोई बीमारी होती है तो उस बच्चे की नाड़ जो सुरक्षित रखी गयी है उसमे से Embryonic stem cells निकालकर उसके शरीर में डाल सके क्योकि Embryonic stem cells में इतनी ताकत होती है की उससे उसी व्यक्ति के पूर्ण अवयव या कह सकते है की उसीका पूर्ण शरीर बनाया जा सकता है. आप समज सकते है की बच्चे की नाड़ सुरक्षित रखने का काम रिलायंस कितनी सफलता पूर्वक कर रही है. क्योकि stem cells सुरक्षित preserve करने का खर्च काफी ज्यादा है और इस काम की ब्रांड अम्बेसडर ऐश्वर्या राय बच्चन है उन्होंने अपनी बच्ची आराध्या बच्चन की नाड़ Embryonic stem cells सुरक्षित करके रखी है. हर व्यक्ति की नाड़ सिर्फ उसी के लिए उपयोग में लायी जा सकती है क्योकि सभी का DNA अलग अलग है
    अब जिनके पास अपनी नाड़ अम्ब्रियनिक स्टेमसेल्स सुरक्षित करके रखी हुई नहीं है उनके लिए क्या?
    इसीलिए Embryonic stem cells का रिसर्च किया गया जो सभी मानव जाती को बिमारिओ से मुक्त कर सके और नतीजा निकला स्विट्ज़रलैंड के Malus Domestica Apple में. इसके स्टेमसेल्स Embryonic stem cells है और इसके पेड़ में खुद को ठीक HEAL करने की अद्भुत क्षमता है. Mibelle Biochemistry Lab को इसमें सफलता मिली और नयी डबल स्टेमसेल्स थेरेपी सामने आई जिससे खराब हो चुके सेल्स का, अवयवो का पुनः निर्माण होता है. यह आज तक की सबसे बड़ी खो Malus Domestica Apple से Embryonic stem cells निकालकर साथ में Solar Vitis Grape stem cells, Acai berry और Blue berry मिलायी गयी जो Nutrition का नैसर्गिक भण्डार है. इसे मिलाने की वजह यह है की नए सेल की निर्मिति और पोषण के लिए भरपूर Nutrition की आवश्यकता होती है और शोध में यह पाया गया की , Acai berry के निरंतर सेवन से , AMAZON के आदिवासी १२५ से १५० साल तक जीते है . इसी कारण इसका सीधा फायदा आपको आपकी जीवन आयु बढ़ाने में होगा. जो की साइंटिफिक तथ्य है.

    Double Stemcell 134 से भी ज्यादा बीमारियो पर पूर्ण रूप से कारगर है उन में से कुछ मुख्य बीमारियो से काफी अधिक संख्या में मानव जाती पीड़ित है
    Double Stemcell द्वारा आपको पूर्ण रूप से इन बीमारियो से निदान मिलेगा. शोध से पता चला है की Double Stemcell का सेवन करने से मनुष्य के शरीर के 80% stem cells और Regenerate होते है. ( वो भी सिर्फ 0.01 डबल स्टेमसेल्स के सेवन से )
    डबल स्टेमसेल्स शरीर को Vitality , u के cells को सुरक्षा , बाहरी वातावरण और Activate तनाव से बचाव और बढाती उम्र के प्रभाव से बचाता है और स्किन को Younger बनाता है .
    यह Anti-aging और पूर्ण रूप से सारे cells का regeneration करता है.
    आपके अवयवो के बेकार हो गए सेल्स का पुनः निर्माण करता है. जिससे आपके अवयव पूर्णरूप से ठीक होकर ठीक से काम करने लगते है और बिमारी का नामोनिशान मिट जाता है.
    Brain problems, Cancer, Diabetes जैसी अन्य सभी गंभीर बीमारियो से मुक्ति पाने के लिए Double Stemcell पूर्ण रूप से कारगर है. आप खुद ही इसके सेवन से 72 घंटो में बदलाव महसूस करेंगे. Diabetes से सड़ चुके घाव के कारण पैर काटने पड सकते थे पर Double Stemcell के सेवन से 48 घंटो में घाव भरने की प्रक्रिया शुरू हो गयी और रुग्ण पैर कटवाने से बच गया तथा Diabetes के कई रोगियों को इन्सुलिन लेने की आवश्यकता ख़त्म हो गयी. जिन्हे Heart disease है उनके Heart मजबूत होकर फिर अच्छी तरह कार्य करने लगे और वे सभी रुग्ण ऑपरेशन से बच गए. अभी वे Double Stemcell के साथ अपना स्वस्थ जीवन व्यतीत कर रहे है.
    अब आपको ही सोचना है की हमेशा महँगी गोलिया और महँगी फीस देकर बिमारी के साथ आपको जीना है या फिर Double Stemcell के साथ रोगमुक्त होकर आपको स्वस्थ जीवन जीना है.
    निःसंकोच होकर हमें निचे दिए हुवे नम्बरो पर अपना नाम और पता SMS करे. call & SMS : +919011990055

    प्रत्युत्तर द्याहटवा